Skip to main content

घर में आईने का स्थान - वास्तु के हिसाब से आईने का स्थान

क्या आपने अपने शयन कक्ष में आईने के स्थान पर ध्यान दिया है? घर में आईने का स्थान का महत्तव और वास्तु के हिसाब से आईने का स्थान क्या है

पलंग के बगल में आईने के संबंध में भ्रम 
पलंग के बगल में ड्रैसिंग टेबल रखने तथा शयनकक्ष में आईनों को लगाने के उपयुक्त स्थान को लेकर कई तरह के भ्रम प्रचलित हैं। इन भ्रांतियों को महा वास्तु के दृष्टिकोण से दूर किया जा सकता है।  

बैडरूम में किसी भी चीज जैसे कि आईने, ड्रैसिंग टेबल आदि को रखने का सही स्थान घर के विभिन्न हिस्सों के संतुलन के आकलन के बाद ही तय किया जा सकता है। 

शयनकक्ष में मौजूद आईना वहां सोने वाले लोगों के अवचेतन मस्तिष्क को प्रभावित करता है। किसी कमरे में आईने का स्थान तथा ऊर्जा का संतुलन वहां रहने वाले लोगों के जीवन पर सकारात्मक या नकारात्मक असर डाल सकता है। शयनकक्ष में भी ऐसा ही होता है।

आईने पर पलंग का प्रतिबिम्ब
पहले माना जाता था कि आईने या ड्रैसिंग टेबल में पलंग का प्रतिबिम्ब पडऩा बैडरूम में रहने वालों के स्वास्थ्य पर खराब प्रभाव डालता है। हालांकि, किसी भी आईने का असर इस बात पर निर्भर करता है कि उसे किस दिशा में लगाया गया है। साथ ही कमरे के संबंधित हिस्से में मौजूद विभिन्न तत्वों के प्रभाव का भी इसमें योगदान होता है।

कौन-सी दिशाओं में आईना लगाना हानिकारक है
दक्षिण-पूर्व दिशा : 
बैडरूम की दक्षिण-पूर्व दिशा में लगाया आईना वहां सोने वाले लोगों की सेहत पर विपरीत असर करता है। यह दिशा अग्नि का क्षेत्र है और यहां आईना अर्थात जल तत्व रखने से असंतुलन पैदा होता है। इस स्थिति को दुरुस्त करने के लिए वास्तु उपाय एवं संतुलन विधियां अपनाई जा सकती हैं।

दक्षिण-दक्षिण पश्चिम दिशा: 
इस दिशा में रखे ड्रैसिंग टेबल का भी नकारात्मक प्रभाव होता है क्योंकि यह निपटान का क्षेत्र है। इस बैडरूम को इस्तेमाल करने वालों को खूब बर्बादी तथा बांझपन का सामना भी करना पड़ सकता है। ऐसा हो तो आईने या ड्रैसिंग टेबल की दिशा बदलने का सुझाव दिया जाता है। वहां पर रंगों से संतुलन पैदा करके सौहार्द पैदा करने के लिए पौधे आदि का प्रयोग किया जा सकता है। 

दक्षिण-पश्चिम दिशा: 

यहां ड्रैसिंग टेबल रखने से बैडरूम में रहने वालों के आपसी रिश्तों में कड़वाहट पैदा होती है। दम्पत्ति एक-दूसरे से ज्यादा अपेक्षाएं रखने लगते हैं और उनमें अक्सर झगड़े तथा अनबन रहने लगती है। इस वजह से बैडरूम में दक्षिण-पश्चिम दिशा भी आईनों के लिए उपयुक्त नहीं है। 

Comments