Skip to main content


गणेश मंत्र

हर शुभ काम की शुरुवात के लिए सबसे पहले भगवान श्री गणेश जी का ध्यान किया जाता है। गणेश जी का नाम किसी भी शुभ कार्य के लिए पहले लेने से विघ्न हरता सब संकटों को हर लेते हैं। जानते है कुछ  गणेश मंत्र के बारेमें जो अप्पकी ज़िन्दगी में कुश और शांति प्रदान करेगा।

मंगलवार और बुधवार के दिन इनकी पूजा का विशेष महत्व हैं। महीने का दोनों चतुर्थी तिथि को भी गणेश जी का पूजा करना चाहिए।



 गणेश मंत्र

इदं दुर्वादलं ऊं गं गणपतये नमः - गणेश जी को दूर्वा अर्पित करते हुए इस मंत्र का जप करना चाहिए इससे बीमारी जल्दी दूर हो जायेगा।

सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम्।
शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्॥ - इस मंत्र का जप करने से मैरिड लाइफ सक्सेसफुल रहेगा।

ॐ गं गणपतये नमः’ मंत्र का 108 बार जाप करें। इससे सरे संकट दूर होजायेगा।