सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं


हिंदू धर्म के अनुसार तिलक लगाने के नियम - कोनसे ऊँगली से तिलक लगाना चाहिए?

हिंदू धर्म के पूजा-पाठ में तिलक का खास स्थान है।  हिंदू धर्म के अनुसार तिलक लगाने के कुछ नियम है। दाएं हाथ की हर उंगली से तिलक लगाने का अपना ही महत्व है। जानिए कोनसे ऊँगली से तिलक लगाना चाहिए?
  • हिंदू धर्म में बिना तिलक धारण किए कोई पूजा संपन्न नहीं मानी जाती।
  • तिलक प्रतिदिन लगाने से व्यक्ति उर्जावान, तनावमुक्त, दूरदर्शी और विवेकशील बन जाते है।  
  • किसी भी पूजा या यात्रा पर जाने से पहले तिलक करना शुभ माना गया है।
  • किसी आध्यामिक कार्य में जाने के लिए भी तिलक लगाना शुभ माना जाता है।  
  • मंदिर से तिलक लगाके ही बहार निकलना चाहिए। 
 कोनसे ऊँगली से तिलक लगाना चाहिए?

कोनसे ऊँगली से तिलक लगाना चाहिए?

  • तिलक सदा दाहिने हाथ से लगाया जाना चाहिए।
  • मध्यमा अंगुली से खुद को तिलक धारण करना चाहिए।
  • अनामिका अंगुली  (रिंग फिंगर) से देव गणों और भगवान को तिलक किया जाता है।
  • अंगूठे से घर में आने वाले किसी अतिथि को तिलक किया जाना चाहिए।
  • तर्जनी अंगुली से पितृगणों को यानि कि पिण्ड दान करने पर तिलक किया जाता है।