सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं


संकट मोचन मंत्र

एक बार जो संकट मोचन हनुमान जी की शरण में आ जाए तो उसके सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। घर में प्रतिदिन संकट मोचन मंत्र जप करना चाहिए। संकट मोचन मंत्र सही विधि से जपने से अत्यंत लाभ प्राप्त होता है।

संकट मोचन मंत्र 

ॐ नमो हनुमते रुद्रावताराय विश्वरूपाय अमित विक्रमाय
प्रकटपराक्रमाय महाबलाय सूर्य कोटिसमप्रभाय रामदूताय स्वाहा।


संकट मोचन मंत्र कैसे जप करें 

मंगलवार को पूजा दक्षिण की और देख कर करना चाहिए। 

मंगलवार को सुबह नहाने के बाद हनुमान जी दीप जलाकर करें। सिन्दूर, गंध, अक्षत, फूल, नैवेद्य चढ़ाकर गुग्गल धूप करें।

लाल आसन पर बैठ कर  मंत्र का जाप १०८ बार करें। उसके पश्चात हनुमान जी की आरती करें। 

गाय , बन्दर या  कुत्ते को खाना किलाये।