सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं


तुलसी नामाष्टक मंत्र

तुलसी नामाष्टक मंत्र तुलसी का पौधे को समर्पित है। तुलसी नामाष्टक मंत्र  के जाप से आपके घर-परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी। तुलसी के पूजन के समय जो इन 8 नामों का पाठ करता है। वह अश्वमेघ यज्ञ के फल को प्राप्त करता है।

तुलसी नामाष्टक मंत्र 

वृंदा वृंदावनी विश्वपूजिता विश्वपावनी।
पुष्पसारा नंदनीय तुलसी कृष्ण जीवनी।।
एतभामांष्टक चैव स्त्रोतं नामर्थं संयुतम।
यः पठेत तां सम्पूज्य सौश्रमेघ फलंलमेता।।